Ten ways to make Mother happy on Mother’s day | Mother’s day date 2023

Mother’s Day is just around the corner and you cannot wait to shower your mom with all the love and attention she deserves. After all, she is the reason behind everything you are today, isn’t she? So, while deciding on what to get her this year, why not try to make it extra special by going a little out of the way in order to make her happy. After all, she deserves nothing less.

Here are ten ways in which you can make your mother happy on Mother’s  Day:

 

1. Start the day off with breakfast in bed

 
What better way to start off Mother’s Day than treating her to a delicious breakfast in bed? Whip up her favorite breakfast or order in from her favorite restaurant to make it extra special. Add a handwritten note or card to make it even more heartfelt.
 

2. Plan a day out

 
Take your mom out for a day filled with activities that she enjoys. Whether it’s going to the spa, taking a walk in the park, or  in the park or even watching a movie, make sure to plan it all in advance. This will give her something to look forward to and allow her to relax and enjoy her special day without any worries.
 

3. Cook her favorite meal

 
If your mom loves to eat, then cooking her favorite meal is a surefire way to make her happy. Take the time to plan out the menu and put in some extra effort while cooking. Make sure everything is perfect and present it beautifully on the table.  to keep in mind any dietary restrictions or preferences she may have. You can also make it even more special by setting the table with her favorite dishes, candles, and maybe even some fresh flowers.
 

4. Pamper her with a spa day

 
Who doesn’t love a good pamp a spa-like atmosphere at home. Light some scented candles, play calming music, and prepare a relaxing bubble bath for her to soak in. You can even give her a DIY massage or pedicure if you feel comfortable doing so.
 

5. Take her on a shopping spree

 
Another way to make your mom feel special on Mother’s Day is to take her on a shopping spree. Whether she loves clothes, shoes, accessories, or home decor, find out what she enjoys shopping for and plan ering session? Arrange for a spa day for your mom and let her indulge in some much-needed relaxation. Book a massage, facial, or any other treatme a day out for the two of you. This could be a great opportunity to bond over some retail therapy and make new memories together. You can even stop for lunch or coffee in between stores and have a heart-to-heart conversation.
 

6. Surprise her with something she’s been wanting

 
Think about something your mom has been wanting for a while but hasn’t gotten around to buying for herself. It could be a piece of jewelry, a book, a kitchen gadget, or even a subscription to her favorite  magazine. Surprise her with this thoughtful gift on Mother’s Day to show her how much you care about her happiness. Seeing the look of surprise and joy on her face will make all the effort worth it.
 

7. Cook her favorite meal

 
If your mom is a foodie or simply enjoys a good meal, consider cooking her favorite dish for Mother’s Day. Whether it’s a fancy dinner or a simple breakfast in bed, put in the effort to make it special and memorable for her. You  could even get creative with it and make it a themed meal. For example, if she loves Italian food, plan a pasta night with all her favorite toppings and sauces. If she’s into sushi, try your hand at making homemade sushi rolls together. The possibilities are endless!
 

8. Plan a movie marathon

 
If your mom is a fan of movies or TV shows, plan a movie marathon day for the two of you. Pick out her favorite films or TV shows, make some snacks, and settle  in for a cozy day of watching together. You could even go all out and create a themed atmosphere, like a pajama party or a snack bar with all her favorite treats. Use this opportunity to spend quality time together and bond over your mutual love of entertainment.
 

9. Take her on a scenic drive

 
Sometimes it’s the simple things in life that can make the biggest impact. Taking your mom on a scenic drive through a beautiful area can be just the relaxing and enjoyable experience she needs. Pack  some snacks or a picnic basket, put on her favorite music or audiobook, and hit the road for a peaceful drive. You can choose a scenic route with breathtaking views of nature or pick a route that takes you through charming towns and villages. This can be a great opportunity for you and your mom to catch up, reminisce about old times or simply enjoy each other’s company while taking in the beauty around you.
 

10. Create a homemade gift

 
While store-bought gifts are great too,  nothing beats a homemade gift that shows your mom the effort and love you put into it. You don’t have to be a crafting guru to make something special for your mom. You could bake her favorite dessert, make a photo album filled with memories of your family, or create a scrapbook detailing your favorite moments together. The options are endless, and your mom will appreciate the thoughtfulness and time you put into making something personalized just for her.

Also

 

Gifting

If you’re looking for a way to show your mom how much you love her, gifting is at opportunity to do some charity work. Many charities organize donation drives, where people donate clothes, food, and other items to help mothers in need.

 a great way to do so. Many people choose to buy their mothers flowers, chocolates, or other kinds of gifts. However, it’s important to note that the best gifts don’t always have to be expensive or flashy. Sometimes, a heartfelt card or letter can go a long way in making your mother feel special and appreciated.

Preparing Meals

Preparing a special meal for your mother is another popular way to celebrate Mother’s Day. Children often try to make their mothers’ favorite meals, while some families  opt for a fancy dinner at a restaurant. However, it’s important to remember that not all mothers want to be wined and dined on this special day. Some may prefer a simple homemade meal with their family, or even just some quality time spent together.

Spending Quality Time

Speaking of quality time, spending time with your mother is one of the most meaningful ways to celebrate Mother’s Day. Whether you go on a hike, watch movies together, or just chat over coffee, the important  thing is that you’re spending time together and showing that you value her company. A great idea is to plan an activity or outing that your mother enjoys, such as visiting a museum or going for a walk in the park. She’ll appreciate the effort you put into planning something that she will enjoy.

Personalized Gifts

If you’re looking for a gift that’s a little more unique, consider making something yourself or personalizing an item. You could create a photo album filled with memories, knit a  scarf, or make a piece of jewelry. Personalizing a gift with your mother’s name or initials is also a great way to show thoughtfulness and make the gift more special. You could get her a custom engraved necklace or monogrammed tote bag, for example. Whatever you decide to do, putting in the effort to create something personalized will demonstrate how much you care.

Relaxation and Pampering

Let’s face it: being a mother can be hard work, and sometimes all that  is needed is some pampering and relaxation. Treat your mother to a spa day or a massage, or create a home spa experience with some luxurious bath products and scented candles. You could also give her a subscription to an online yoga class or a guided meditation app to help her unwind and destress. Remember, spending time with your mother is about showing her that you care, and giving her the opportunity to relax and rejuvenate is a great way to do that.

Cooking and Dining

If  your mother loves to cook or entertain, consider giving her something related to the art of dining. A new cookbook, a set of elegant wine glasses, or even a fancy cheese board could be perfect options. You could also plan a special meal or cooking class together, where you can bond over your shared love of food.

For the Creative and Artistic

For the mothers who are creative and artisti and brushes, a sketchbook, or even a pottery class could make for a wonderful present. If your mother enjoys DIY projects, consider giving her a subscription to a crafting or sewing magazine, or surprise her with a new tool or piece of equipment for her favorite hobby. Whatever you choose, make sure it’s something that will inspire her creativity and allow her to express herself.

Outdoor Adventures

If your mother enjoys spending time outdoors, consider gifting her with gear for her favorite activity. Whether it’s  a new hiking backpack for weekend hikes, a set of camping gear for an upcoming trip, or even a pair of comfortable shoes for long walks in the park, your outdoorsy mom will appreciate the thought and effort put into selecting a gift that fits her lifestyle. You could also plan an outdoor adventure together, like going on a fishing trip or exploring a nearby nature reserve. It’s a great way to spend time with your mom while also enjoying the beauty of nature.

For the Tech-Savvy  For the tech-savvy mom, the options are endless. A new smartphone, tablet, or laptop could be the perfect gift, especially if she’s been eyeing a specific model. If your mom is always on the go, consider a smartwatch to keep her connected and organized. There are also plenty of tech accessories that could make her life easier, like a wireless charging pad or noise-canceling headphones. And don’t forget about subscriptions to streaming services or an e-reader for all her favorite , there are endless possibilities for gifts that will cater to their passions. A nice set of watercolor paints  For the Artistic Moms

If your mom loves to express herself through art, there are plenty of gifts that can cater to her passion. A nice set of watercolor paints or a new sketchbook could inspire her to create more. You could also consider gifting her with a subscription to an art magazine or enrolling her in a local art class. This would give her the opportunity to explore different techniques and styles, and connect with other artists in her community. And if you really want to go  all out, why not commission a portrait of her or book her a session with a professional photographer? It’s a great way to showcase her beauty and uniqueness, while also supporting local artists.

For the Foodies

For the moms who love to cook and indulge in culinary adventures, there are numerous options to pick from. A cookbook authored by a renowned chef could inspire your mom to whip up some tantalizing dishes. You could also consider gifting her with a high-quality kitchen gadget that would make meal  preparation a breeze, such as a food processor or a stand mixer. Or, if she’s all about experimenting with new ingredients and flavors, you could sign her up for a cooking class or a food tour in your city. And let’s not forget about the ultimate foodie gift: a fancy dinner at a Michelin-starred restaurant! This would be an unforgettable experience that she’ll treasure for years to come.

For the Fitness Enthusiasts

If your mom is committed to staying fit  and healthy, there are several gifts that can encourage her to keep up with her exercise routine. First and foremost, a high-quality fitness tracker could be an excellent choice. It will not only help her monitor her progress but also provide her with motivation to reach her fitness goals. You could also consider gifting her with a gym membership or signing her up for a personal training session. If your mom loves yoga or Pilates, you could get her some new workout gear, such as leggings or a yoga  mat. And if she’s up for a challenge, why not sign her up for a marathon or a fitness event in your city? This would not only be a great way for her to achieve something amazing, but it will also show her that you support and admire her dedication to fitness.

For the Travel Bug

If your mom loves to travel, there are plenty of gift options that cater to her wanderlust. Start by gifting her some travel essentials like a passport holder or a luggage tag.  Or, if you really want to impress her, consider booking a surprise trip for her to one of her dream destinations. It could be a solo trip or a family vacation, depending on her preference. If you’re not up for booking a trip, you can gift her with experiences that she can have while traveling. A hot air balloon ride, a wine tasting tour or a cooking class in a foreign country would be excellent options. You could also gift her with travel guides to destinations she’s always wanted  to visit, or a gift card to a travel agency to help her plan her next adventure.

For the Creative Soul

If your mom is the artistic and creative type, there are plenty of gift options that will help her express herself. An art kit with painting supplies or a set of calligraphy pens could inspire her to create beautiful works of art. You could also consider gifting her with a subscription to an art magazine or an online art class.

 

Conclusion

Mother’s Day is a special occasion to honor and celebrate the hard work and sacrifices that mothers make to raise their children. The day is celebrated in different ways in the United States, but the common theme is always to show love and appreciation for mothers. Whether it is through gifts, meals, spending time together or charitable work, Mother’s Day is an excellent opportunity to show your mom how much you care about her.

 

SSC CGL 2023 (Combined Graduation Level) | SSC CGL ki puri jankari

Staff Selection Commission - Wikipedia

 

Combined Graduated Level Examination is an examination organized by the Staff Selection Commission also known as SSC to recruit Group B and C officers to various posts in top ministries, departments and organizations of the Government of India. The Staff Selection Commission was established in 1975.

Full name of the examination is Staff Selection Commission Combined Graduate Level Exam.

Administered by: Staff Selection Commission

SSC CGL Syllabus 2023: SSC has issued the new exam pattern and syllabus for  SSC CGL 2023 exam and soon it will release the official notification of the SSC CGL 2023 exam. In June-July 2023 the Tier-1 Exam of the SSC CGL 2023 exam is scheduled to be conducted. Candidates who are planning to get ready for the SSC CGL exam have to go through the latest SSC CGL syllabus and exam pattern to scale their chances to appear in this exam. A fair overview of the SSC CGL Syllabus & exam pattern for the Tier-I and Tier-II Exam is necessary to prepare effectively for this exam. Based on the latest pattern, let’s know about the SSC CGL Syllabus 2023 for Tier I & II exams.

SSC CGL Syllabus 2023

To start the preparation for any exam, the candidates must be familiar with the complete & accurate exam pattern along with a detailed SSC CGL syllabus to plan a full-proof strategy to score good marks in the exam. The exam pattern & syllabus for each SSC CGL Phase has been discussed in this post. Staff Selection Commission will select candidates for Combined Graduate Level posts through a Two-Tier recruitment process. The mode of all stages of the SSC CGL Exam is as follows-

Tier Type Mode
Tier – I Objective Multiple Choice Questions Computer-Based Test (online) CBT
Tier – II (Paper I, II, III) Paper I (Compulsory for all posts),
Paper II for candidates who apply for the posts of Junior Statistical Officer (JSO) in the Ministry of Statistics and Programme Implementation and
Paper III for candidates who apply for the posts of Assistant Audit Officer/ Assistant Accounts Officer.
Objective Type, Multiple choice questions, except for Module-II of Section-III of Paper-I
Computer-Based Test (online) CBT

SSC Combined Graduation Level {CGL} Syllabus 2023 for Tier 1 Exam

The aspirants beginning with the preparation for SSC CGL Exam must be familiar with the subject-wise SSC CGL Syllabus for the Tier-1 exam which consists of mainly 4 sections- 1. Quantitative Aptitude, 2. General Intelligence and Reasoning, 3. English Language & 4. General Awareness.

The detailed SSC CGL Syllabus 2023 for Tier-1 Exam has been discussed in breif below.

SSC Combined Graduation Level (CGL) 2023 Tier 1 Exam Pattern

SSC Combined Graduation Level CGL Tier 1 Exam will be qualifying in nature. As per SSC Combined Graduation Level Syllabus 2023 for Tier 1 Exam, aspirants will be going to have 4 sections with 25 questions each. The time duration for attempting the Tier-1 Exam is 60 minutes & there is a negative marking of 0.50 marks for each incorrect answer. Have a quick look at the SSC CGL Tier-1 Exam Pattern from here-

SNo. Sections for CBT Tier-1 No. of Questions Total Marks Time Allotted
1 General Intelligence and Reasoning 25 50 A cumulative time of 60 minutes
(1 hour)
2 General Awareness 25 50
3 Quantitative Aptitude 25 50
4 English Comprehension 25 50
Total 100 200

 

SSC Combined Graduation Level Syllabus 2023 for Quantitative Aptitude

In SSC CGL Tier-1 Exam, the Quantitative Aptitude Questions basically focus on analyzing the candidate’s ability to appropriately use of numbers and number sense. This section is common in Tier-1 & Tier-2 and some of the topics are similar in nature, so do prepare well to save time during your next stage of preparation for the same chapters. The main topics for SSC CGL Quantitative Aptitude as set by the commission are as given below-

SSC Combined Graduation Level Tier-I Syllabus- Quantitative Aptitude [CBT]
  1. Computation of whole numbers
  2. Decimals
  3. Fractions
  4. Relationships between numbers
  5. Profit and Loss
  6. Discount
  7. Partnership Business
  8. Mixture and Alligation
  9. Time and distance
  10. Time & Work
  11. Percentage
  12. Ratio & Proportion
  13. Square roots
  14. Averages
  15. Interest
  16. Basic algebraic identities of School Algebra & Elementary surds
  17. Graphs of Linear Equations
  18. Triangle and its various kinds of centers
  19. Congruence and similarity of triangles
  20. Circle and its chords, tangents, angles subtended by chords of a circle, common tangents to two or more circles
  21. Triangle
  22. Quadrilaterals
  23. Regular Polygons
  24. Right Prism
  25. Right Circular Cone
  26. Right Circular Cylinder
  27. Sphere
  28. Heights and Distances
  29. Histogram
  30. Frequency polygon
  31. Bar diagram & Pie chart
  32. Hemispheres
  33. Rectangular Parallelepiped
  34. Regular Right Pyramid with triangular or square base
  35. Trigonometric ratio
  36. Degree and Radian Measures
  37. Standard Identities
  38. Complementary angles

SSC Combined Graduation Level Syllabus 2023 for General Intelligence and Reasoning are given below

The SSC CGL Syllabus 2023 for General Intelligence and Reasoning comprises of both verbal and non-verbal types of topics. This section will be key to examining the candidate’s activeness and sharpness in any condition. The area to be covered under SSC CGL Syllabus for General Intelligence and Reasoning are listed below-

SSC Combined Graduation Level Tier-I Syllabus- General Intelligence and Reasoning 
  1. Analogies
  2. Similarities and differences
  3. Space visualization
  4. Spatial orientation
  5. Problem-solving
  6. Analysis
  7. Judgment
  8. Blood Relations
  9. Decision making
  10. Visual memory
  11. Discrimination
  12. Observation
  13. Relationship concepts
  14. Arithmetical reasoning
  15. Figural classification
  16. Arithmetic number series
  17. Non-verbal series
  18. Coding and decoding
  19. Statement conclusion
  20. Syllogistic reasoning

SSC Combined Graduation Level Syllabus 2023 for the English Language-

In all the sections in SSC Combined Graduation Level Tier-1, the English section will be only in the English language their is no alternative language available for it. The candidates have to attempt the questions asked in the exam which would analyze their knoowledge of the subject and their basic comprehension and writing ability would also be tested. Good command over the following topics would help the candidates to secure good score in this particular section.

SSC Combined Graduation Level Tier-I Syllabus- English Language
  1. Idioms and Phrases 
  2. One word Substitution
  3. Sentence Correction
  4. Error Spotting
  5. Fill in the Blanks
  6. Spellings Correction
  7. Reading Comprehension
  8. Synonyms-Antonyms
  9. Active Passive
  10. Sentence Rearrangement
  11. Sentence Improvement
  12. Cloze test

 

SSC CGL Syllabus 2023 for General Awareness

This section will help test the aspirants awareness about General Knowledge and General Science and their application to society. Through the syllabus of this section is vast in terms of the following major topics-

SSC Combined Graduation Level Tier-I General Awareness Syllabus
  1. India and its neighbouring countries especially pertaining to History, Culture, Geography, Economic Scene, General Policy & Scientific Research
  2. Science
  3. Current Affairs
  4. Books and Authors
  5. Sports
  6. Important Schemes
  7. Important Days
  8. Portfolio
  9. People in News
  10. Static GK

 

SSC Combined Graduation Level Syllabus 2023 for Tier-2

After giving the preliminary exam has been conducted, it will be necessary to prepare for the Tier-2 Exam of the SSC CGL 2023 Exam. The Mains Exam will be conducted online and is an objective multiple-choice exam [mcq], except for Module II (Data Entry Speed Test) of Section III of Paper-I.

SSC Combined Graduation Level [CGL] Tier-2 Exam Pattern

Paper-I will be conducted in multiple sessions – Session I & Session II, on the same day and it is compulsory for all candidates who qualify in Paper 1. Session-I will include conducting Section-I, Section-II and Module-I of Section-III. Session II will include conducting Module II of Section III. It will be mandatory for the candidates to qualify for all the sections of Paper-I.

SSC CGL Tier 2 Paper 1
Sections Module Subject No. of Questions Marks Weightage
Section I Module-I Mathematical Abilities 30 60*3 = 180 23%
Module-II Reasoning and General Intelligence 30 23%
Section II Module-I English Language and Comprehension 45 70*3 = 210 35%
Module-II General Awareness 25 19%
Section III Module-I Computer Knowledge Test 20 20*3 = 60 Qualifying
Module-II Data Entry Speed Test  One Data Entry Task Qualifying
SSC CGL Tier 2 Paper 2 & 3
Paper Section No. of question Maximum Marks Duration
Paper II Statistics 100 200 2 hours
Paper III General Studies (Finance and Economics) 100 200 2 hours

Module-I of Session-I of Paper-I Mathematical Abilities is given below:

The main focus of this section is to examine the candidate’s knowledge in terms of the suitable use of numbers and the number sense of the candidate. Though the section is also demands in the Tier-1 Exam, however, the level and type of questions will be designed differently and slightly more moderate than in the 1st stage. So candidates must buckle up their reparation with the topics enlisted below-

Topics Sub-topics
Number Systems
  1. Computation of Whole Number
  2. Decimal and Fractions
  3. Relationship between numbers
Fundamental arithmetical operations
  1. Percentages
  2. Ratio and Proportion
  3. Square roots
  4. Averages
  5. Interest (Simple and Compound)
  6. Profit and Loss
  7. Discount
  8. Partnership Business
  9. Mixture and Alligation
  10. Time and distance
  11. Time and work
Algebra
  1. Basic algebraic identities of School Algebra and Elementary surds (simple problems)
  2. Graphs of Linear Equations
Geometry
  1. Similarity with elementary geometric figures and facts: Triangle and its various kinds of centres
  2. Congruence and similarity of triangles
  3. Circle and its chords, tangents, angles subtended by chords of a circle, common tangents to two or more circles.
Mensuration
  1. Triangle
  2. Quadrilaterals
  3. Regular Polygons
  4. Circle
  5. Right Prism
  6. Right Circular Cone
  7. Right Circular Cylinder
  8. Sphere
  9. Hemispheres
  10. Rectangular Parallelepiped
  11. Regular Right Pyramid with triangular or square Base.
Trigonometry
  1. Trigonometry
  2. Trigonometric ratios
  3. Complementary angles
  4. Height and distances (simple problems only)
  5. Standard Identities
Statistics and probability
  1. Use of Tables and Graphs: Histogram, Frequency polygon, Bar-diagram, Pie-chart
  2. Measures of central tendency: mean, median, mode, standard deviation
  3. Calculation of simple probabilities

Module-II of Section-I of Paper-I Reasoning and General Intelligence is given below:

Questions of both non-verbal and verbal types. These will comprise of questions on-

Module-II of Section-I of Paper-I Reasoning and General Intelligence
  1. Semantic Analogy
  2. Symbolic operations, Symbolic/ Number Analogy, Trends
  3. Figural Analogy
  4. Space Orientation
  5. Number Series
  6. Embedded figures
  7. Figural Series
  8. Critical Thinking
  9. Problem-Solving
  10. Emotional Intelligence
  11. Word Building
  12. Social Intelligence
  13. Coding and de-coding
  14. Numerical operations
  15. Other sub-topics, if any
  16. Semantic Classification
  17. Venn Diagrams
  18. Symbolic/ Number
  19. Classification
  20. Drawing inferences
  21. Figural Classification
  22. Punched hole/ pattern-folding & unfolding
  23. Semantic Series
  24. Figural Pattern folding and completion

Module-I of Section-II of Paper-I English Language And Comprehension is given below-

Fluency in the English Language will be obeserved on the basis of this section of the SSC Combined Graduation Level Tier-2 Syllabus. Basic knowledge of the English language in terms of the given enlisted topics is necessary to score good marks in this section of the Tier-2 Exam. The syllabus for reading comprehension is not specific and is added in the syllabus to check candidates quick responses to the situations.

Module-I of Section-II of Paper-I (English Language And Comprehension)
  1. Vocabulary
  2. English Grammar
  3. Sentence structure
  4. Spot the Error
  5. Cloze Passage
  6. Fill in the Blanks,
  7. Synonyms/Homonyms
  8. Antonyms
  9. Spellings/ Detecting misspelt words
  10. Idioms & Phrases
  11. One word substitution
  12. Improvement of Sentences,
  13. Active/ Passive Voice of Verbs
  14. Conversion into Direct/ Indirect narration
  15. Shuffling of Sentence parts
  16. Shuffling of Sentences in a passage
  17. Comprehension Passage- To test comprehension, three or more paragraphs will be given and questions based on those will be asked. At least one paragraph should be a simple one based on a book or a story and the other two paragraphs should be on current affairs, based on a report or an editorial.

Module-II of Section-II of Paper-I General Awareness:

Questions are designed to check the candidates general awareness of the environment around them and its application to society. Questions are also designed to test knowledge of current events and of such matters of everyday observation and experience in their scientific aspect as may be expected of an educated person. The test will also include questions relating

Module-II of Section-II of Paper-I (General Awareness)
  1. India and its neighbouring countries especially pertaining to History, Culture, Geography, Economic Scene, General Policy & Scientific Research
  2. Science
  3. Current Affairs
  4. Books and Authors
  5. Sports
  6. Important Schemes
  7. Important Days & Dates
  8. Portfolio
  9. People in News

Module-I of Section-III of Paper-I Computer Proficiency:

Topics Sub-Topics
Computer Basics
  1. Organization of a computer
  2. Central Processing Unit (CPU)
  3. Input/ output devices
  4. Computer memory
  5. Memory organization
  6. Back-up devices
  7. PORTs
  8. Windows Explorer
  9. Keyboard shortcuts
Software Windows Operating system including basics of Microsoft Office like MS word, MS Excel and Power Point etc
Working with the Internet and e-mails Web Browsing & Searching, Downloading & Uploading, Managing an E-mail Account, e-Banking
Basics of networking and cyber security Networking devices and protocols, Network and information security threats (like hacking, virus, worms, Trojan etc.) and preventive measures

SSC Combined Graduation Level Tier 2 Syllabus- Paper 2 (Statistics)

For some candidates, this section might be tough & difficult to understand. The basic tip is to get the concept clear and repetitive revision of the concepts would be beneficial to grab good marks in this section too. The SSC CGL Tier-2 Syllabus for Statistics is described as follows-

SSC CGL Tier 2 Syllabus- Paper 2 (Statistics)
Subject Topics
1. Collection, Classification and Presentation of Statistical Data Primary and Secondary data, Methods of data collection; Tabulation of data; Graphs and charts; Frequency distributions; Diagrammatic presentation of frequency distributions.
2. Measures of Central Tendency  Common measures of central tendency – mean median and mode; Partition values- quartiles, deciles, percentiles.
3. Measures of Dispersion- Common measures of Dispersion range, quartile deviations, mean deviation and standard deviation; Measures of relative dispersion.
4. Moments, Skewness and Kurtosis Different types of moments and their relationship; the meaning of skewness and kurtosis; different measures of skewness and kurtosis.
5. Correlation and Regression Scatter diagram; simple correlation coefficient; simple regression lines; Spearman‟s rank correlation; Measures of association of attributes; Multiple regression; Multiple and partial correlation (For three variables only).
6. Probability Theory Meaning of probability; Different definitions of probability; Conditional probability; Compound probability; Independent events; Bayes‟ theorem.
7. Random Variable and Probability Distributions Random variable; Probability functions; Expectation and Variance of a random variable; Higher moments of a random variable; Binomial, Poisson, Normal and Exponential distributions; Joint distribution of two random variable (discrete).
8. Sampling Theory Concept of population and sample; Parameter and statistic, Sampling and non-sampling errors; Probability and nonprobability sampling techniques(simple random sampling, stratified sampling, multistage sampling, multiphase sampling, cluster sampling, systematic sampling, purposive sampling, convenience sampling and quota sampling); Sampling distribution(statement only); Sample size decisions.
9. Statistical Inference Point estimation and interval estimation, Properties of a good estimator, Methods of estimation (Moments method, Maximum likelihood method, Least squares method), Testing of hypothesis, Basic concept of testing, Small sample and large sample tests, Tests based on Z, t, Chi-square and F statistic, Confidence intervals.
10. Analysis of Variance Analysis of one-way classified data and two-way classified data.
11. Time Series Analysis Components of time series, Determination of trend component by different methods, Measurement of seasonal variation by different methods.
12. Index Numbers Meaning of Index Numbers, Problems in the construction of index numbers, Types of index number, Different formulae, Base shifting and splicing of index numbers, Cost of living Index Numbers, Uses of Index Numbers.

SSC Combined Graduation Level Tier 2 Syllabus- Paper-3 (General Studies-Finance and Economics)

This section of the SSC CGL Tier 2 Syllabus is divided into 2 parts Finance & Accounts and Economics & Governance for which the sub-topics are detailed below-

SSC CGL Tier 2 Syllabus- Paper 3(General Studies-Finance and Economics)
Part Subject Topics
Part A: Finance and Accounts-(80 marks) Financial Accounting
  1. Nature and scope
  2. Limitations of Financial Accounting
  3. Basic concepts and Conventions
  4. Generally Accepted Accounting Principles
Basic concepts of accounting
  1. Single and double entry
  2. Books of Original Entry
  3. Bank Reconciliation
  4. Journal, ledgers
  5. Trial Balance
  6. Rectification of Errors
  7. Manufacturing
  8. Trading
  9. Profit & Loss Appropriation Accounts
  10. Balance Sheet
  11. Distinction between Capital and Revenue Expenditure
  12. Depreciation Accounting
  13. Valuation of Inventories
  14. Non-profit organisations Accounts
  15. Receipts and Payments and Income & Expenditure Accounts
  16. Bills of Exchange
  17. Self Balancing Ledgers
Part B: Economics and Governance-(120 marks) Comptroller & Auditor General of India- Constitutional provisions, Role and responsibility
Finance Commission-Role and functions
Basic Concept of Economics and introduction to Micro Economics
  1. Definition
  2. Scope and nature of Economics
  3. Methods of economic study
  4. Central problems of an economy
  5. Production possibilities curve
Theory of Demand and Supply
  1. Meaning and determinants of demand
  2. Law of demand and Elasticity of demand
  3. Price
  4. Income and cross elasticity
  5. Theory of consumer‟s behaviour
  6. Marshallian approach and Indifference curve approach
  7. Meaning and determinants of supply
  8. Law of supply
  9. The elasticity of Supply
Theory of Production and cost
  1. Meaning and Factors of production
  2. Laws of production- Law of variable proportions and Laws of returns to scale.
Forms of Market and price determination in different markets
  1. Various forms of markets-Perfect Competition
  2. Monopoly
  3. Monopolistic Competition
  4. Oligopoly
  5. Price determination in these markets.
Indian Economy
  1. Nature of the Indian Economy Role of different sectors, Role of Agriculture, Industry and Services-their problems and growth.
  2. National Income of India-Concepts of national income, Different methods of measuring national income.
  3. Population-Its size, rate of growth and its implication on economic growth.
  4. Poverty and unemployment- Absolute and relative poverty, types, causes and incidence of unemployment.
  5. Infrastructure-Energy, Transportation, Communication.
Economic Reforms in India
  1. Economic reforms since 1991
  2. Liberalisation
  3. Privatisation
  4. Globalisation
  5. Disinvestment
Money and Banking
  1. Monetary/ Fiscal policy- Role and functions of Reserve Bank of India; functions of commercial Banks/RRB/Payment Banks.
  2. Budget and Fiscal deficits and Balance of payments.
  3. Fiscal Responsibility and Budget Management Act, 2003.
Role of Information Technology in Governance

Satish kaushik death | सतीश कौशिक की मौत: कैसे हुई मौत, कहां और क्या कर रहे थे सतीश

Bollywood अभिनेता सतीश कौशिक की मौत की खबर: अभिनेता और फिल्म निर्माता सतीश कौशिक का 66 साल की उम्र में बुधवार को दिल्ली में निधन हो गया। उनके निधन की खबर ने हिंदी फिल्म उद्योग को सदमे में डाल दिया और कई लोगों ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया। सतीश दिल्ली में थे जब एक कार में यात्रा करते समय उन्हें दिल का दौरा पड़ा। गुरुवार को उनका पार्थिव शरीर मुंबई लाया जाएगा।

उनके मित्र और सहयोगी अनुपम खेर ने लिखा, “मुझे पता है” मृत्यु इस दुनिया का अंतिम सत्य है! लेकिन मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं अपने सबसे अच्छे दोस्त के बारे में ये बात लिखूंगा |

45 साल की दोस्ती पर ऐसे अचानक लगा फुल स्टॉप !! आपके बिना जीवन पहले जैसा नहीं रहेगा सतीश! शांति!”
सतीश कौशिक ने अपने करियर की शुरुआत थिएटर से की और हिंदी सिनेमा में अभिनय किया। उन्होंने कई फिल्मों का निर्देशन भी किया।

 

सुभाष घई ने ट्विटर पर सतीश कौशिक के साथ एक पुरानी तस्वीर साझा की और लिखा, “यह बेहद दुखद है कि हमने अपना एक सबसे अच्छा दोस्त खो दिया।”

सुनील शेट्टी ने अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त की
सुनील शेट्टी ने ट्वीट किया, “आज, हमने फिल्म उद्योग के बेहतरीन लोगों में से एक को खो दिया है। उनकी याद उन सभी के लिए एक आशीर्वाद होगी जो उन्हें जानते थे और प्यार करते थे। परिवार के प्रति हार्दिक संवेदनाएं।”

अमित शाह ने सतीश कौशिक के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की
केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने ट्विटर के माध्यम से साझा किया, “अभिनेता, निर्देशक और लेखक सतीश कौशिक जी के आकस्मिक निधन से गहरा दुख हुआ। भारतीय सिनेमा, कलात्मक कृतियों और प्रदर्शनों में उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा। उनके शोक संतप्त परिवार और अनुयायियों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है।” शांति शांति।”

सतीश कौशिक की पोस्ट ‘हैप्पी एंड फन होली पार्टी’ से थी
दिवंगत अभिनेता सतीश कौशिक की आखिरी सोशल मीडिया पोस्ट में 7 मार्च को जावेद अख्तर और शबाना आज़मी के मुंबई स्थित आवास पर होली की पार्टी से खुशियों का एक गुच्छा दिखाया गया था|

 

पृष्ठभूमि | BACKGROUND

सतीश कौशिक का जन्म 13 अप्रैल, 1956 को धनौंदा, जिला मोहिंदरगढ़, हरियाणा, भारत में हुआ था। वह दिल्ली, नईवाला गली, करोलबाग में पले-बढ़े। उन्होंने किरोड़ीमल कॉलेज, नई दिल्ली से स्नातक किया। वह राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय, नई दिल्ली गए, जहां उन्होंने 1978 में स्नातक किया। बाद में उन्होंने फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, पुणे में अध्ययन किया।

सतीश का जन्म 13 अप्रैल 1956 को हरियाणा के महेंद्रगढ़ में हुआ था। उन्होंने 1972 में किरोड़ीमल कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक की उपाधि प्राप्त की। वह राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के पूर्व छात्र थे\

सतीश कौशिक की शादी शशि कौशिक से हुई है और दोनों का शानू कौशिक नाम का एक बेटा भी है, जो महज दो साल की उम्र में चल बसा। उनकी शादी के सोलह साल बाद, दंपति को एक और बच्चे का आशीर्वाद मिला, वंशिका नाम की एक बेटी, जिसका जन्म 2012 में हुआ था।

 

आजीविका | CAREER

सतीश कौशिक ने 1983 में फिल्म मासूम में शेखर कपूर के सहायक निर्देशक के रूप में अपना करियर शुरू किया। उन्होंने अपनी पहली इस फिल्म में एक अभिनेता के रूप में भी काम किया।

निर्देशक के रूप में उनकी पहली फिल्म 1993 में श्रीदेवी रूप की रानी चोरों का राजा थी। 1995 में उनकी दूसरी फिल्म प्रेम थी, जो तब्बू की लॉन्च फिल्म थी। दोनों बॉक्स-ऑफिस आपदाएं थीं। उन्होंने अपनी फिल्म बनाना जारी रखा और 1999 में हम आपके दिल में रहते हैं के साथ उन्हें पहली हिट मिली।

उन्हें अनिल कपूर और श्रीदेवी के साथ हिट फिल्म मिस्टर इंडिया में ‘कैलेंडर’ की भूमिका के लिए जाना जाता है। उन्हें 1997 में उनके दोस्त डेविड धवन द्वारा निर्देशित कॉमेडी दीवाना मस्ताना में “पप्पू पेजर” के उनके चरित्र के लिए भी जाना जाता था।

उन्होंने एक टीवी काउंटडाउन शो, फिलिप्स टॉप टेन का सह-लेखन और एंकरिंग की, जिसके लिए उन्होंने स्क्रीन वीडियोकॉन अवार्ड जीता।

2007 में, अनुपम खेर, जो एनएसडी में उनके बैचमेट थे, और उन्होंने एक नई फिल्म कंपनी करोल बाग प्रोडक्शंस की शुरुआत की। उनकी पहली फिल्म तेरे संग का निर्देशन सतीश कौशिक ने किया था।

उनका अगला काम अकबर महान के दरबार में नवरत्नों में से एक तानसेन के जीवन पर आधारित है। इसे राजश्री प्रोडक्शंस ने प्रोड्यूस किया है। तानसेन की भूमिका अभिषेक बच्चन द्वारा निभाई जाएगी, और साउंडट्रैक रवींद्र जैन द्वारा रचित होगा। फिल्म की स्क्रिप्ट खत्म की जा रही है।

 

MINI BIO

Born
April 13, 1956 in Mohindergarh, Patiala and East Punjab States Union, India

Died
March 9, 2023 in Delhi, India (Heart Attack)

Birth Name
Satish Chandra Kaushik

 

Priyanka Chahar Choudhary Bigg Boss 16 winner | Shiv stands second

Bigg Boss 16 winner is Priyanka Chahar Choudhary, according to the poll Archana Gautam, Shiv Thakare and Shalin Bhanot are among the top three finalists

Bigg Boss Season 16 winner is Priyanka Choudhary, with Shiv Thakare close behind according to the poll

The grand Bigg Boss 16 finale is here. The season, which has aired for over almost four months and has been hosted by Salman Khan, sees the finalists Priyanka Chahar Choudhary, Shalin Bhanot, Shiv Thakare, Archana Gautam and MC Stan competing for the trophy.

While the new Bigg Boss winner will be announced by Salman Khan in tonight’s episode, indianexpress.com’s poll suggests that Priyanka Chahar Choudhary and Shiv Thakare are the clear audience favourites to win the trophy.

According to the poll, Priyanka is leading the race, with Shiv Thakare coming in as a close second, and he earned 28.9 per cent votes while MC Stan stands at 18 per cent. Another competitor is Archana Gautam, as she and Shiv Thakare have been extremely popular among the audience owing to their fiery personas that saw them entangled in numerous controversies throughout the show. The promos for the finale promise electrifying performances by Shalin Bhanot, which will focus on his relationship with Tina Datta. He will dance to Hai Re Meri Bijlee, on the other hand, Archana Gautam will dance to Hawa Hawaai.

 

 

तुर्की भूकंप | Turkey earthquake killed many people

Table of Contents

तुर्की भूकंप | Turkey earthquake

तुर्की में भूकंप से होने वाली मौतों की संख्या शीर्ष 15,000 है| तुर्की भूकंप: आपदा के विशाल पैमाने ने हजारों इमारतों को चपटा कर दिया, अज्ञात लोगों को फँसाने से, ठंड के मौसम से पहले से ही बाधित राहत कार्यों में कमी आई है।तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन ने बुधवार को तुर्की और सीरिया में 15,000 से अधिक लोगों की जान लेने वाले बड़े पैमाने पर भूकंप के बाद उनकी सरकार की प्रतिक्रिया की आलोचना के बाद “कमियों” को स्वीकार किया|

तुर्की के एक किंडरगार्टन शिक्षक सेमिर कोबन ने कहा, “मेरा भतीजा, मेरी भाभी और मेरी भाभी की बहन खंडहर में हैं। वे खंडहर में फंसे हुए हैं और जीवन का कोई निशान नहीं है।”

उन्होंने कहा, “हम उन तक नहीं पहुंच सकते। हम उनसे बात करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन वे जवाब नहीं दे रहे हैं… हम मदद का इंतजार कर रहे हैं। अब 48 घंटे हो गए हैं।”

फिर भी, खोजकर्ता 7.8 तीव्रता के भूकंप के तीन दिन बाद भी मलबे से जीवित बचे लोगों को खींचते रहे, जो पहले से ही इस सदी के सबसे घातक भूकंपों में से एक है, यहां तक ​​कि मौत की संख्या में वृद्धि जारी है।जैसे ही आलोचना ऑनलाइन बढ़ी, एर्दोगन ने सबसे कठिन स्थानों में से एक का दौरा किया, भूकंप का केंद्र कहारनमारस, और प्रतिक्रिया में समस्याओं को स्वीकार किया।

स्थितियां साफ देखने को मिल रही हैं। इस तरह की आपदा के लिए तैयार रहना संभव नहीं है।”

एएफपी पत्रकारों और नेटब्लॉक्स वेब मॉनिटरिंग ग्रुप के अनुसार, ट्विटर तुर्की मोबाइल नेटवर्क पर भी काम नहीं कर रहा था।

Muhammet Ruzgar, 5, is carried out by a rescuer from the site of a damaged building, following an earthquake in Hatay, Turkey, February 7, 2023. REUTERS/Umit Bektas TPX IMAGES OF THE DAY

बच्चों को बचाया

 

जीवित बचे लोगों को खोजने के लिए बचावकर्ताओं के लिए खिड़की कम हो रही है क्योंकि 72 घंटे के निशान के पास प्रयास किया जा रहा है, जिसे आपदा विशेषज्ञ जान बचाने के लिए सबसे संभावित अवधि मानते हैं।

फिर भी, बुधवार को, बचावकर्ताओं ने तुर्की के हटे प्रांत में एक ढही हुई इमारत के नीचे से बच्चों को निकाला, जहाँ कस्बों के पूरे हिस्सों को समतल कर दिया गया है।

बचावकर्ता एल्पेरेन सेतिंकाया ने कहा, “अचानक हमें आवाजें सुनाई दीं और खुदाई करने वाले को धन्यवाद… तुरंत ही हमने एक ही समय में तीन लोगों की आवाजें सुनीं।”

उन्होंने कहा, “हम उनमें से अधिक की उम्मीद कर रहे हैं … लोगों को यहां से जीवित निकालने की संभावना बहुत अधिक है।”

अधिकारियों और चिकित्सकों ने कहा कि तुर्की में 12,391 लोग मारे गए और सीरिया में कम से कम 2,992 लोग सोमवार को आए 7.8-तीव्रता के झटके से मारे गए, जिससे कुल संख्या 15,383 हो गई – और विशेषज्ञों को डर है कि यह संख्या तेजी से बढ़ती रहेगी।

ब्रसेल्स में, यूरोपीय संघ सीरिया और तुर्की के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहायता जुटाने के लिए मार्च में एक दाता सम्मेलन की योजना बना रहा है।

यूरोपीय संघ की प्रमुख उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने ट्विटर पर कहा, “हम अब एक साथ जीवन बचाने के लिए घड़ी के खिलाफ दौड़ रहे हैं।”

वॉन डेर लेयेन ने कहा, “जब इस तरह की त्रासदी लोगों पर पड़ती है तो किसी को भी अकेला नहीं छोड़ा जाना चाहिए।”

‘हर पल मर रहे लोग’

क्षति के पैमाने और कुछ क्षेत्रों में आने वाली सहायता की कमी के कारण, जीवित बचे लोगों ने कहा कि वे आपदा का जवाब देने में अकेले महसूस करते हैं।

अपना पूरा नाम नहीं बताने वाले एक निवासी हसन ने विद्रोहियों के कब्जे वाले सीरियाई शहर जिंदयारिस में कहा, “यहां तक ​​कि जो इमारतें नहीं गिरी थीं, वे भी गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हो गई थीं। अब ऊपर के लोगों की तुलना में अधिक लोग मलबे के नीचे हैं।” .

“प्रत्येक ढही हुई इमारत के नीचे लगभग 400-500 लोग फंसे हुए हैं, केवल 10 लोग उन्हें बाहर निकालने की कोशिश कर रहे हैं।

सीरिया के विद्रोहियों के कब्जे वाले इलाकों में मलबे के नीचे दबे लोगों को बचाने के प्रमुख प्रयासों में व्हाइट हेल्मेट्स ने “समय के खिलाफ दौड़” में अंतरराष्ट्रीय मदद की अपील की है।

युद्धग्रस्त सीरिया के उत्तर-पश्चिमी इलाकों में सरकार के नियंत्रण से बाहर रहने वाले दर्जनों चपटी इमारतों के मलबे के नीचे से जीवित बचे लोगों को बाहर निकालने के लिए वे भूकंप के बाद से कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

संयुक्त राष्ट्र के एक प्रमुख अधिकारी ने उत्तर पश्चिम में विद्रोहियों के कब्जे वाले क्षेत्रों में सहायता की सुविधा के लिए आह्वान किया, राहत स्टॉक जल्द ही समाप्त हो जाएगा।

संयुक्त राष्ट्र के रेजिडेंट सीरिया समन्वयक एल-मुस्तफा बेनलामलिह ने एक साक्षात्कार में एएफपी को बताया, “राजनीति को एक तरफ रख दें और हमें अपना मानवीय कार्य करने दें।”

सीरिया ने की यूरोपीय संघ से मदद की अपील

 

सीरिया को सहायता का मुद्दा एक नाजुक है, और दमिश्क में स्वीकृत सरकार ने यूरोपीय संघ से मदद के लिए एक आधिकारिक अनुरोध किया, संकट प्रबंधन के लिए ब्लॉक के आयुक्त जानेज लेनार्सिक ने कहा।

एक दशक के गृह युद्ध और सीरियाई-रूसी हवाई बमबारी ने पहले ही अस्पतालों को नष्ट कर दिया था, अर्थव्यवस्था को ध्वस्त कर दिया था और बिजली, ईंधन और पानी की कमी को बढ़ावा दिया था।

लेनार्सिक ने कहा कि यूरोपीय आयोग चिकित्सा आपूर्ति और भोजन के लिए सीरिया के अनुरोध का जवाब देने के लिए यूरोपीय संघ के सदस्य देशों को “प्रोत्साहित” कर रहा है, जबकि यह सुनिश्चित करने के लिए निगरानी कर रहा है कि राष्ट्रपति बशर अल-असद की सरकार द्वारा किसी भी सहायता को “डायवर्ट” नहीं किया गया है।

संयुक्त राज्य अमेरिका, चीन और खाड़ी राज्यों सहित दर्जनों देशों ने मदद करने का संकल्प लिया है, और खोज दल और साथ ही राहत सामग्री पहले ही आ चुकी है।

सीरिया की सीमा के पास सोमवार को देश में आए भीषण भूकंप के बाद यूरोपीय संघ ने तुर्की में बचाव दलों को भेजने में तेजी दिखाई।

लेकिन इसने शुरू में सीरिया को केवल न्यूनतम सहायता की पेशकश की क्योंकि असद की सरकार पर 2011 से यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों के कारण प्रदर्शनकारियों पर क्रूर कार्रवाई की गई थी, जो कि गृहयुद्ध में बदल गया था।

तुर्की-सीरिया सीमा दुनिया के सबसे सक्रिय भूकंप क्षेत्रों में से एक है।

सोमवार का भूकंप 1939 के बाद से सबसे बड़ा तुर्की देखा गया था, जब पूर्वी एरज़िनकन प्रांत में 33,000 लोग मारे गए थे।

1999 में, 7.4 तीव्रता के भूकंप ने 17,000 से अधिक लोगों की जान ले ली।

Top 25 traditional business courses in India – 2023 | पैसे कमाने के तरीके बिज़नेस के जरिये

भारत भर में लाखों छात्र माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षा के पूरा होने पर कैरियर के चौराहे पर खड़े होते हैं।  वे एक आम दुविधा साझा करते हैं: एक उत्कृष्ट और आकर्षक कैरियर बनाने के लिए उन्हें क्या कोर्स करना चाहिए।

शुक्र है कि भारत में उत्कृष्ट व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की कोई कमी नहीं है।  इसलिए, आप अपनी योग्यता और रुचि, जुनून और पसंद के आधार पर एक के लिए नामांकन कर सकते हैं।

Table of Contents

Importance of Professional Course 

Traditional business ideas – पारंपरिक व्यावसायिक पाठ्यक्रम का चयन करने के कई कारण हैं।  मुख्य कारण, वे एक उत्कृष्ट कैरियर बनाने के लिए समय परीक्षण और सिद्ध हैं।

निश्चित रूप से, इनमें से कुछ भारत में सबसे कठिन पाठ्यक्रम हैं।  लेकिन अगर आपका मन अपने जुनून या Career के लक्ष्य का पालन करने के लिए एक पेशेवर बनने के लिए तैयार है, तो यह एक बाधा नहीं है।

दूसरा सबसे महत्वपूर्ण कारण यह है कि भारत में कुछ पेशेवर पाठ्यक्रम भी आपको एक उद्यमी बनने में मदद करते हैं।  और तीसरा, शानदार संस्थानों की कोई कमी नहीं है जहाँ आप एक पेशेवर कोर्स के लिए दाखिला ले सकते हैं।

इसलिए, आइए भारत के कुछ सर्वश्रेष्ठ पारंपरिक व्यावसायिक पाठ्यक्रमों पर नज़र डालें।

Best Conventional professional Courses

ये पाठ्यक्रम पूरे भारत में उपलब्ध हैं।  हालांकि, इन पाठ्यक्रमों का अध्ययन करने के लिए शैक्षिक संस्थान का चयन करते समय आपको सावधान रहने की आवश्यकता है।  जबकि एक अच्छा संस्थान तुरंत नौकरी खोजने में मदद करेगा, एक गलत व्यक्ति के साथ दाखिला लेने से आप छात्र ऋण और बेरोजगार को छोड़ सकते हैं। 

 

1. बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन के मास्टर (Master of business administration)

बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन या एमबीए के मास्टर एक उत्कृष्ट पारंपरिक पेशेवर कोर्स है जो आपके कैरियर को सीधे एक कंपनी के जूनियर या मध्य प्रबंधन में रॉकेट करता है।

हालांकि, यह ध्यान देने योग्य है कि भारत में 93 प्रतिशत एमबीए स्नातकों को बिना किसी छूट के बिजनेस स्कूलों में अध्ययन करने के कारण बेरोजगारी का सामना करना पड़ता है।  एक शीर्ष बी-स्कूल से एमबीए करना आपके प्रयास, समय और धन के लायक है।

 

माध्य वेतन: रु। 10,000,000 -R.1.100 बजे (बी-स्कूल पर निर्भर करता है)

 

योग्यता: किसी भी स्ट्रीम से स्नातक / उच्चतर माध्यमिक शिक्षा के साथ काम करने वाले व्यक्ति।

 

प्रवेश परीक्षा: कैट, जीमैट, एमएटी या बी-स्कूलों द्वारा आयोजित की गई।

 

2. दवा (Medicine)

दिन, जब बैचलर ऑफ मेडिसिन, बैचलर ऑफ सर्जरी (एमबीबीएस) एकमात्र चिकित्सा पाठ्यक्रम था जो अब मायने रखता है, अब खत्म हो गया है।  आजकल, आप आयुर्वेद, यूनानी, होम्योपैथी और प्राकृतिक चिकित्सा में एक पेशेवर कोर्स कर सकते हैं।

भारत सरकार का आयुर्वेद मंत्रालय, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी (आयुष) अब भारत में चिकित्सा उपचार की इच्छा रखने वाले विदेशियों को भारतीय चिकित्सा के इन पारंपरिक रूपों को बढ़ावा देता है।

 

माध्य आय: रु .30,000- रु। 150,000 (सेवा या स्वयं के अभ्यास के आधार पर)

 

योग्यता: उच्च माध्यमिक प्रमाणपत्र (एचएससी) या बहुत उच्च अंकों के साथ समकक्ष।

 

प्रवेश परीक्षा: CET, NEET या मेडिकल कॉलेजों द्वारा संचालित।

 

3. इंजीनियरिंग (engineering)

लगभग चार साल पहले, इंजीनियरिंग स्नातकों के बीच बेरोजगारी की दर 93 प्रतिशत थी।  2017 के बाद से, यह लगातार गिरावट दिखा रहा है।  अब इंजीनियरिंग स्नातकों के बीच बेरोजगारी लगभग 53 प्रतिशत है।

यह आंकड़ा, हालांकि खतरनाक है, वास्तव में कुछ भी गंभीर नहीं है। हालांकि, यह ध्यान देने योग्य है कि केवल शीर्ष कॉलेजों के इंजीनियर ही रोजगार पाते हैं।  भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) और अन्य प्रतिष्ठित संस्थान इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं जो दुनिया भर में मान्य हैं।

 

माध्य आय: रु .30,000- रु। 20,000 (कौशल और इंजीनियरिंग कॉलेज के आधार पर)

 

योग्यता: बहुत उच्च स्कोर के साथ एचएससी या समकक्ष।

 

 प्रवेश परीक्षा: JEE, NEET या इंजीनियरिंग कॉलेजों द्वारा आयोजित किए गए।

 

4. फैशन डिजाइनिंग (fashion designing)

फैशन डिजाइनिंग भारत का सबसे कठिन कोर्स है।  इसमें बहुत सारी रचनात्मकता शामिल है।  आपको दुनिया भर के नवीनतम फैशन रुझानों और डिजाइनों से भी अवगत होना चाहिए।  दुनिया के कुछ सबसे बड़े फैशन लेबल इस तेजी से बढ़ते बाजार को भुनाने के लिए भारत में तेजी से प्रवेश कर रहे हैं।  यदि आप किसी भी प्रसिद्ध संस्थान से फैशन डिजाइनर के रूप में स्नातक हैं, तो यह प्रतियोगिता आपके लिए अच्छी है।

 

औसत आय: रु। 25,000 से रु। 1,00,000 (नौकरी या खुद का व्यवसाय)

 

योग्यता: एचएससी या समकक्ष।  (60% से 75%)

 

प्रवेश परीक्षा: ललित कला के किसी भी कॉलेज में प्रवेश के लिए AAC-CET

 

5. लेखा और वित्त (Account & finance)

पैसा कभी भी सीजन से बाहर या फैशन से बाहर नहीं जाता है।  जब तक पृथ्वी पर मनुष्य हैं, तब तक हमेशा पैसा रहेगा।  इसलिए, खाते और वित्त को आगे बढ़ाने के लिए एक शानदार कैरियर है।  एक नियमित बैचलर ऑफ कॉमर्स आपको इस क्षेत्र में लॉन्च करेगा।

इसके अलावा, कंपनी ऑडिटर या बाहरी ऑडिटर बनने के लिए अधिक विशिष्ट पाठ्यक्रमों का चयन करें।  ये भारत के कुछ सबसे कठिन व्यावसायिक पाठ्यक्रम भी हैं।

 

माध्य आय: रु। 15,000 – रु। 3,5,000

 

योग्यता: कॉलेज द्वारा निर्धारित अंकों के साथ एचएससी या समकक्ष

 

प्रवेश परीक्षा- कोई नहीं

 

6. कानून (Law)

बॉलीवुड फ़िल्मों में देखे जाने वाले उन स्टीरियोटाइप वकीलों को भूल जाइए और एक जज के सामने नाटकीय दलीलों में उलझे रहिए  आजकल, कानून भी एक अद्भुत पेशा है, अगर आप जानते हैं कि कहां हड़ताल करना है।  कॉर्पोरेट कानून, अंतर्राष्ट्रीय कानून, बौद्धिक संपदा अधिकार संरक्षण और कुछ अन्य कानूनी क्षेत्र शानदार करियर का महान वादा करते हैं।

भारत में परिचालन खोलने वाली विदेशी कंपनियों की बढ़ती संख्या के साथ, कानून उन सर्वोत्तम पाठ्यक्रमों में से एक है जिन्हें आप चुन सकते हैं।

 

औसत आय: रु। 10,000 – रु। 1,00,000

 

योग्यता: कला, विज्ञान या वाणिज्य में स्नातक की डिग्री

 

प्रवेश परीक्षा- विशिष्ट कॉलेजों द्वारा आयोजित सीएलएटी या अन्य

 

7. इंटीरियर डिजाइनिंग (interior designing)

आजकल, हर कोई चाहता है कि उनके घर, दफ्तर, और स्टोर के अंदरूनी भाग ठाठ और स्टाइलिश दिखें।  इसलिए इंटीरियर डिजाइनिंग की उच्च मांग है।  यह एक अद्भुत पारंपरिक व्यावसायिक पाठ्यक्रम है जो आपकी रचनात्मकता को पंख देगा।

किसी भी मॉल या ब्रांड स्टोर पर जाएं और आपको इंटीरियर डिजाइनिंग के उत्कृष्ट उदाहरण दिखाई देंगे।  इसमें हर इंटीरियर की डिजाइनिंग शामिल है- छोटे घरों से लेकर बड़े विला, पर्सनल ऑफिस और केबिन से लेकर कमर्शियल कॉम्प्लेक्स और मॉल।

 

माध्य आय: रु .75,000- रु। 20,000

 

पात्रता: एचएससी या समकक्ष (60% से 75%)

 

प्रवेश परीक्षा: AAC-CET या ललित कला महाविद्यालय द्वारा आयोजित कोई अन्य।

 

8. वेब डिजाइनिंग (Web Designing)

इंटरनेट और ईकॉमर्स के इस युग में, वेबसाइट की उपस्थिति वास्तव में मायने रखती है।  एक वेबसाइट किसी व्यक्ति या कंपनी के व्यक्तित्व और कॉर्पोरेट संस्कृति का प्रतिबिंब है।  इसलिए लोग और व्यवसाय इस बात पर विशेष जोर देते हैं कि उनकी वेबसाइट कैसी दिखती है।

यह एक वेब डिजाइनर का काम है।  आप एक प्रतिष्ठित संस्थान से एक शानदार वेब डिजाइनिंग का कोर्स कर सकते हैं और खुद का स्टार्टअप भी लॉन्च कर सकते हैं।  या आप एक ऐसी कंपनी के साथ काम कर सकते हैं जो दूसरों के लिए वेबसाइट डिजाइन करती है।

 

मीडियन इनकम: Rs.35,000- Rs.70,000

 

पात्रता: एसएससी या समकक्ष (न्यूनतम अंक नहीं)

 

प्रवेश परीक्षा: कोई नहीं

 

9. डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing)

अभी भी इंटरनेट और वेबसाइटों के विषय पर, आइए डिजिटल मार्केटिंग देखें।  यह भारत में सबसे तेजी से बढ़ने वाला उद्योग है और 2022 तक दो मिलियन से अधिक नौकरियां पैदा करेगा। डिजिटल मार्केटिंग में कई प्रक्रियाओं को सीखना शामिल है जो एक वेबसाइट, उत्पाद या सेवा को इंटरनेट का उपयोग करके चैनल के रूप में लोकप्रिय बना देगा।

ये लघु अवधि के पाठ्यक्रम हैं और भारत भर में आसानी से उपलब्ध हैं।  माध्यमिक या उच्चतर माध्यमिक योग्यता वाला कोई भी व्यक्ति इस व्यावसायिक पाठ्यक्रम में दाखिला ले सकता है।  कोई आयु सीमा भी नहीं है।

 

मेडियन इनकम: 1,5,000 रुपये से असीमित

 

पात्रता: एचएससी या समकक्ष (न्यूनतम अंक नहीं)

 

प्रवेश परीक्षा: कोई नहीं

 

10. कंप्यूटर अनुप्रयोग (Computer)

कंप्यूटर हमारी रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा हैं।  और कोई भी मालिक होने का दावा नहीं कर सकता।  इसलिए, कंप्यूटर अनुप्रयोगों में विशेषज्ञ आवश्यक हैं।  ये सरल अभी तक कठिन व्यावसायिक पाठ्यक्रम हैं और गहन एकाग्रता और प्रयासों की आवश्यकता होती है।

कारण: कंप्यूटर तकनीक इस लेख को पढ़ते हुए भी विकसित हो रही है।  और आपको क्षेत्र में विकास के साथ बने रहने की जरूरत है।  लेकिन यह आपको एक शानदार करियर बनाने में मदद करता है।

 

माध्य आय: रु। 50,000 – रु। 20,000

 

पात्रता: एचएससी या समकक्ष (75% या अधिक)

 

प्रवेश परीक्षा: यूजीएटी, एआईएमए

 

11. एनिमेशन और मल्टीमीडिया (Animation & Multimedia)

एनिमेशन और मल्टीमीडिया विज्ञापन, सूचना विज्ञान और मनोरंजन उद्योग का एक अभिन्न हिस्सा हैं।  यदि आप अनजान हैं, तो संयुक्त राज्य अमेरिका और जापान के बच्चों की फिल्मों और कार्टून फिल्मों के कई प्रमुख निर्माता भारत में बने एनिमेशन हैं।

एनिमेशन और मल्टीमीडिया भी तेजी से बढ़ता हुआ उद्योग है और आप करियर बनाने के लिए एक कोर्स कर सकते हैं।  ये अत्यधिक पेशेवर पाठ्यक्रम हैं जो कठोर रचनात्मकता की मांग करते हैं।

 

माध्य आय: रु। 25,000- रु। 1,00,000

 

पात्रता: एचएससी या समकक्ष (50% या अधिक)

 

प्रवेश परीक्षा: AAC-CET / कॉलेज विशिष्ट (पाठ्यक्रम और संस्थान पर निर्भर करता है)

 

12. डायटेटिक्स (Dietetics)

एक आहार विशेषज्ञ यह सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार होता है कि अस्पताल में मरीज या गंभीर बीमारी के शिकार लोग अपने भोजन के माध्यम से सही मात्रा में पोषण और कैलोरी प्राप्त करें।  इसलिए, वे पूर्ण भोजन और आहार बनाने के लिए चिकित्सा चिकित्सकों, स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं और रोगियों के साथ मिलकर काम करते हैं।

वे पाचन, वजन और अन्य विकारों वाले लोगों को कुछ अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करते हैं।  वे अधिक वजन और मोटे लोगों को उन अवांछित पाउंडों को बहाने में भी मदद करते हैं।  जैसा कि भारत स्वास्थ्य के प्रति सजग और चिकित्सा महंगाई की मार झेलता है, एक पेशेवर आहार विशेषज्ञ बनने के लिए अध्ययन एक अद्भुत विचार है।

 

औसत आय: रु। 25,000 = रु। 50,000

 

पात्रता: एचएससी या समकक्ष (50% और अधिक)

 

प्रवेश परीक्षा: कोई नहीं / कॉलेज विशिष्ट

 

13. नागरिक नौसेना (civilian nevy)

नागरिक नौसेना में दो घटक होते हैं: यात्री परिवहन और माल ढुलाई। आजकल यात्री परिवहन मुख्य रूप से अंतर्राष्ट्रीय परिभ्रमण के रूप में है।  फ्रेट ट्रांसपोर्ट का मतलब है कि पिंस और सुइयों से लेकर जटिल मशीनरी, हथियार और खतरनाक सामग्री तक एक जगह से दूसरी जगह जाना।

नागरिक नौसेना के ये दोनों घटक कैरियर के बेहतरीन अवसर प्रदान करते हैं।  विशेष, पेशेवर पाठ्यक्रम हैं जो आपको क्रूज लाइन में शामिल होने में मदद करते हैं।  और देशों के बीच कार्गो को स्थानांतरित करने वाले व्यापारी नौसेना में शामिल होने के लिए पेशेवर पाठ्यक्रम हैं।  अद्भुत पाठ्यक्रम यदि आप दुनिया को मुफ्त में देखना चाहते हैं।

 

माध्य आय: रु। 3,5,000- रु। 500,000

 

पात्रता: न्यूनतम एसएससी (स्कोर 50% या अधिक)

 

प्रवेश परीक्षा: कोई विशेष परीक्षा नहीं, नौकरी पर निर्भर करता है

 

14. आतिथ्य (hospitality)

आपके सबसे अच्छे रेस्तरां से लेकर होटल तक और शहर के रिज़ॉर्ट सभी भारतीय आतिथ्य उद्योग का हिस्सा हैं।  इस विशाल उद्योग को गुलजार रखने के लिए हजारों पेशेवरों की आवश्यकता है।  भारत दुनिया में शीर्ष पर्यटन स्थल के रूप में कई अंक प्राप्त करने के साथ, भारत का आतिथ्य क्षेत्र ऊपर की ओर है।

पूरे भारत में सम्मानित संस्थानों से अद्भुत आतिथ्य संबंधित व्यावसायिक पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं।  वे साधारण हाउसकीपिंग पाठ्यक्रम से लेकर जटिल लोगों तक शेफ के रूप में अर्हता प्राप्त करने के लिए हैं।

 

माध्य आय: रु। 10,000 से रु। 500,000

 

योग्यता: एसएससी / एचएससी या समकक्ष (50% या अधिक)

 

प्रवेश परीक्षा: आईटीआई प्रवेश / आईएचएम प्रवेश / कॉलेज विशिष्ट

 

15. पत्रकारिता और जनसंचार (Journalism & mass communication)

पत्रकारिता और जन संचार में एक अच्छा, पेशेवर पाठ्यक्रम एक ही समय में बहुत कठिन और रोमांचक साबित हो सकता है।  और यह एक गलत धारणा है कि पत्रकारिता और जनसंचार स्नातक केवल अखबारों, पत्रिकाओं, रेडियो स्टेशनों और टीवी चैनलों पर नौकरी करते हैं।

आजकल, पत्रकारिता और जन संचार स्नातकों को भी जनसंपर्क प्रबंधक, कॉर्पोरेट संचार अधिकारियों और प्रभावितों के रूप में भूमिकाएं मिलती हैं।  पत्रकारिता और जन संचार में एक पेशेवर पाठ्यक्रम भी आपको सार्वजनिक संबंध व्यवसाय स्थापित करने में मदद कर सकता है।

 

औसत आय: रु। 25,000 – रु। 500,000

 

योग्यता: एचएससी या समकक्ष (स्कोर 50% या अधिक)

 

प्रवेश परीक्षा: कोई नहीं।  कॉलेज 1-ऑन -1 इंटरव्यू आयोजित कर सकते हैं

 

16. एरोनॉटिक्स और एवियोनिक्स (Aeronautics & Avionics)

आधुनिक समय के वैमानिकी और एविओनिक्स केवल विमान तक ही सीमित नहीं हैं, पायलट या सबसे अच्छा, एक वैमानिकी इंजीनियर बन जाते हैं।  भारत में एक विशाल एयरोस्पेस उद्योग है जो दुनिया भर में खबरें बना रहा है।  भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO), इसकी अंतर्राष्ट्रीय मार्केटिंग विंग एंट्रिक्स, भारत में नागरिक और सैन्य विमान बनाने के लिए भारतीय और विदेशी फर्मों के बीच संयुक्त उपक्रम एयरोनॉटिक्स और एवियोनिक्स पेशेवरों की भारी मांग पैदा कर रहा है।

 

भारत में कुछ विश्वविद्यालय हैं जो इन क्षेत्रों में विश्व स्तर के व्यावसायिक पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं।  इसरो का भी एक कोर्स है।

 

मेडियन इनकम: रु .50,000- रु। 500,000

 

योग्यता: किसी भी स्ट्रीम में इंजीनियर

 

प्रवेश परीक्षा: कॉलेज विशिष्ट

 

17. चार्टर्ड अकाउंटेंसी (Chartered accountancy)

यदि आप कठिन पारंपरिक पेशेवर कोर्स करने के बारे में आश्वस्त हैं तो मैं चार्टर्ड अकाउंटेंसी की सिफारिश नहीं करूंगा।  यह भारत में सबसे कठिन और सर्वश्रेष्ठ व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में से एक है।  सफल होने और सीए बनने पर, प्रसिद्धि और धन के दरवाजे अपने आप खुल जाते हैं।

सीए एक ऐसा पेशा है जो कम से कम हमारे जीवनकाल में कभी भी मांग से बाहर नहीं होगा।  सभी को वेतनभोगी व्यक्तियों से लेकर उच्च निवल मूल्य के व्यक्तित्वों, छोटे व्यवसायों और विशाल बहुराष्ट्रीय निगमों की आवश्यकता होती है।

 

मीडियन इनकम: 1,00,000 से आगे

 

पात्रता: एचएससी या समकक्ष (60% या अधिक)

 

प्रवेश परीक्षा: सीए सीपीटी

 

18. यात्रा और पर्यटन. (Travel & tourism)

यात्रा और पर्यटन के इस विशाल क्षेत्र में डिप्लोमा टू एमबीए पाठ्यक्रम उपलब्ध है।  ये कुछ बेहतरीन पेशेवर कोर्स भी हैं जो आप कर सकते हैं।  एक यात्रा और पर्यटन पाठ्यक्रम के सफल समापन पर, आप एक एयरलाइन, विदेशी और घरेलू टूर ऑपरेटर के लिए काम करने के लिए अर्हता प्राप्त करते हैं, सरकारी विभागों में ट्रैवल अरेंजर के रूप में काम करते हैं, भारतीय रेलवे और राज्य सड़क परिवहन निगमों से नौकरी की पेशकश करते हैं।

रास्ते अंतहीन हैं।  भारत में सर्वश्रेष्ठ और सबसे दिलचस्प व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में यात्रा और पर्यटन रैंक।

 

 माध्य आय: रु। 15,000- रु। 600,000

 

 पात्रता: एसएससी और ऊपर (50% और अधिक)

 

 प्रवेश परीक्षा: कोई नहीं

 

19. फिल्म और टी.वी. (Film and Tv)

भारत में बॉलीवुड के नेतृत्व में दुनिया का सबसे बड़ा सिनेमा उद्योग है – जो दुनिया में फिल्मों का सबसे बड़ा निर्माता है।  इसलिए, फिल्म और टीवी उद्योग में सभी के लिए पर्याप्त गुंजाइश है।

अभिनय, मॉडलिंग, फिल्म निर्देशन, विशेष प्रभाव, संपादन, ध्वनि और अन्य सुविधाओं को सीखने के लिए व्यावसायिक पाठ्यक्रम भारत के कुछ सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों में उपलब्ध हैं।  चूंकि भारतीय फिल्में पसंद करते हैं और अनगिनत टेलीविजन धारावाहिकों को देखते हैं, इस क्षेत्र में शानदार पेशेवर कोर्स करने पर करियर की कोई कमी नहीं है।

 

20. ग्राफिक्स डिजाइनिंग (Graphics Designing)

एक और शीर्ष पेशेवर पाठ्यक्रम जो आजकल चलन ग्राफिक डिजाइनिंग है।  एक पेशेवर graphic design course करने से आपको बड़े निगमों में नौकरी पाने में मदद मिलती है।  यह आपको स्वयं का व्यवसाय खोलने में भी मदद करता है और छोटे और बड़े ग्राहकों को ग्राफिक डिजाइनिंग सेवाएं प्रदान करता है।

आजकल, दुनिया के कुछ शीर्ष कंपनियों के लिए कंपनी के लोगो, ब्रांड इमेज और अन्य सामान जैसी सामग्री बनाने के लिए दुनिया भर के ग्राफिक डिजाइनर भी दुनिया भर के ग्राफिक डिजाइनरों को पंजीकृत करते हैं।

 

माध्य आय: रु। 25,000- रु .75,000

 

योग्यता: एसएससी या उच्चतर (पाठ्यक्रम और संस्थान पर निर्भर करता है)

 

प्रवेश परीक्षा: स्नातक डिग्री के लिए AAC-CET / निजी संस्थानों के लिए कोई नहीं)

 

21. फार्मासिस्ट (pharmacist)

भारत में फार्मासिस्ट बनने के लिए तीन तरह के कोर्स उपलब्ध हैं।  एक फार्मेसी में डिप्लोमा है, जबकि दूसरा बैचलर ऑफ फार्मेसी और उसके बाद मास्टर ऑफ फार्मेसी है।  ये पेशेवर पाठ्यक्रम आपको दवा कंपनियों, राज्य-संचालित और निजी अस्पतालों और स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं के लिए एक अद्भुत कैरियर प्रदान कर सकते हैं।

एक योग्य फार्मासिस्ट को आसानी से मेडिकल स्टोर खोलने और खुद का व्यवसाय शुरू करने का लाइसेंस मिलता है।  जैसा कि हम सभी जानते हैं, फार्मेसियों या मेडिकल स्टोर कभी भी व्यवसाय से बाहर नहीं निकलते हैं और पूरे वर्ष मांग में रहते हैं।

 

माध्य आय: रु। 3,5,000- रु। 1,00,000

 

योग्यता: एसएससी (डिप्लोमा के लिए 50% या अधिक), एचएससी (बैचलर के लिए 75% या अधिक)

 

प्रवेश परीक्षा: कोई भी / कॉलेज विशिष्ट नहीं

 

22. पर्यावरण विज्ञान (enviromental Science)

इनमें कई दिलचस्प पेशेवर और पारंपरिक पाठ्यक्रम शामिल हैं जैसे समुद्री जीव विज्ञान और पर्यावरण इंजीनियरिंग।  दुनिया के शीर्ष प्रदूषण फैलाने वाले देशों में भारत की रैंकिंग के साथ, सरकार और उद्योगों द्वारा वायु, मिट्टी और जल प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए अतिरिक्त प्रयास हैं।

पर्यावरण विज्ञान पाठ्यक्रम अधिकांश प्रमुख विश्वविद्यालयों के साथ-साथ इंजीनियरिंग कॉलेजों में भी उपलब्ध हैं।  इन व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के स्नातक विदेशों में भी मांग में हैं।

 

माध्य आय: रु। 25,000- रु .75,000

 

पात्रता: एचएससी या समकक्ष (50% और अधिक)

 

प्रवेश परीक्षा: कोई नहीं

 

23. सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग (Software engineering)

भारत का कम से कम एक इंजीनियर उस computer software को बनाने में शामिल है जिसे आप अभी उपयोग कर रहे हैं।  सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग आजकल करने के लिए सबसे अच्छा पारंपरिक पेशेवर कोर्स है।  न केवल आपको भारत में अच्छी-खासी तनख्वाह वाली नौकरियां मिलती हैं, बल्कि आपके कौशल की अमरीका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में भी बहुत माँग है।

भारत के software Engineer ‘टेकीज़’ के नाम से जाने जाते हैं।  वे संयुक्त राज्य अमेरिका के सिलिकॉन वैली को आकार दे रहे हैं और भारत को सूचना प्रौद्योगिकी की दुनिया में आगे रहने में मदद कर रहे हैं।

 

माध्य आय: रु। 150,000 आगे की ओर

 

योग्यता: बहुत उच्च स्कोर के साथ एचएससी या समकक्ष

 

प्रवेश परीक्षा: कॉलेजों द्वारा आयोजित जेईई, आईआईटी-जेईई, और अन्य।

 

24. मनोरोग और मनोविज्ञान (Psychiatry and physiology)

भारत तेजी से बढ़ती शहरीकरण और जीवन शैली में बदलाव की अर्थव्यवस्था है।  यह नागरिकों के लिए लागत के बिना नहीं है।  बहुत सारे भारतीय तनाव से संबंधित मानसिक बीमारियों से पीड़ित हैं, हालांकि यह मामूली है।  समाचार रिपोर्टों से संकेत मिलता है कि चार से 16 साल की उम्र के बच्चे भी कुछ हद तक मानसिक समस्याओं से पीड़ित हैं।

इसलिए, मनोचिकित्सा में एक पेशेवर पाठ्यक्रम, जो आमतौर पर एक medical school से स्नातक करने के बाद किया जाता है, निश्चित रूप से भारत और इसके लोगों को ऐसी समस्याओं को दूर करने में मदद करेगा।  मनोविज्ञान में बैचलर डिग्री आपको युवा दिमागों की मदद करने के लिए स्कूलों और कॉलेजों में एक उत्कृष्ट परामर्शदाता बनने में मदद कर सकती है।

 

माध्य आय: रु। 1,00,000 – रु। 500,000

 

योग्यता: एमबीबीएस या समकक्ष

 

प्रवेश परीक्षा: NEET-PG

 

25. कृषक (Agriculturist)

भारत में भोजन की उत्कृष्ट क्षमता है और यह वास्तव में अन्य देशों के खाद्य पदार्थों के आयात पर निर्भर नहीं है।  और इस बढ़त को बनाए रखने के लिए, भारत सरकार और निजी क्षेत्र कृषि उद्योग में बहुत भारी निवेश कर रहे हैं।  कृषक के रूप में एक व्यावसायिक पाठ्यक्रम सभी खाद्य फसलों को उगाने के लिए नहीं है।

यह इस बारे में भी है कि बेहतर फसल के लिए किस प्रकार के बीजों का इस्तेमाल किया जा सकता है, जिससे उर्वरकों, कीटनाशकों और कीटनाशकों की किस्मों का निर्माण होता है, जिससे सिंचाई प्रणाली विकसित होती है।  कृषक भारतीय और राज्य सरकारों के साथ-साथ बहुराष्ट्रीय कंपनियों के साथ भी इस क्षेत्र में काम करते हैं।

 

माध्य आय: रु। 25,000- रु .75,000

 

पात्रता: एचएससी या समकक्ष (स्कोर 50% या अधिक)

 

प्रवेश परीक्षा: कोई नहीं

 

सर्वश्रेष्ठ व्यावसायिक पाठ्यक्रमों का चयन करना

यदि 25 सर्वश्रेष्ठ पारंपरिक व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की इस सूची में भ्रम है कि क्या चुनना है, तो इस सरल चरण का पालन करें।  बस यह पता करें कि आप किस चीज के बारे में सबसे ज्यादा भावुक हैं और यह कैसे शानदार करियर बनाने में मदद करेगा।

अपने माता-पिता या स्कूल के शिक्षकों से इस बारे में बात करें।  किसी विशेष पाठ्यक्रम के लिए नामांकन करने से पहले रोजगार और उद्यमिता के भविष्य के दायरे पर कुछ शोध करें।  इस तरह, आप जिस क्षेत्र के बारे में सपने देखते हैं, उसका निर्माण करते हुए आप जिस क्षेत्र से प्यार करते हैं, उसका अध्ययन करेंगे।

 

जानकारी (INFORMATION)

यह याद रखने योग्य है कि सभी पारंपरिक पेशेवर पाठ्यक्रम समान रूप से अच्छे हैं।  क्या फर्क पड़ता है कि आपकी रुचि किस क्षेत्र में है।  यह एक मिथक है कि एक कोर्स दूसरे की तुलना में अधिक प्रतिष्ठित है।  आखिर करियर या बिजनेस और खुशी में आपकी सफलता क्या मायने रखती है।

इसलिए, भारत में पारंपरिक व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की इस विस्तृत पसंद को किसी भी तरह से भ्रमित न करें।  अपनी वृत्ति का पालन करें और बाकी सब कुछ अपने आप गिर जाता है।

 

Note:

हमारा उद्देश्य है आपको एक बेहतर सलाह देना आपको एक बेहतर आइडिया देना आप अपना कोई भी बिजनेस अपने रिक्स पर करें। धन्यवाद। आपका दिन शुभ हो। आपके सभी काम सफल हो।