Type Here to Get Search Results !

Murgi farm business kaise khole, Desi hen poultry in Hindi - Full Information

0
Murgi farm hen poultry


Murgi Farm business में सेट की बनावट और आवास

Poultry Farm शुरू करने में सबसे पहला काम है। बेहतर पोल्ट्री शेड का निर्माण पोल्ट्री फार्म बनाते वक्त मामूली सी गलती भी आने वाले वक्त में आपके लगातार होने वाले नुकसान या मुनाफे को घटा या बढ़ा सकती हैं आज के वक्त में हम murgi/murge से मात्र 30 40 दिनों में बेतहाशा वजन की उम्मीद करते हैं Hen poultry farm बनाते वक्त और पोल्ट्री फार्म में चूजे आने के बाद आप कुछ जरूरी बातों पर अमल करिए ताकि murgi/murga ko acha आवास मुहैया हो इससे Murgiya ya desi murgi कम तनाव महसूस करेंगे ध्यान रखें जितना कम तनाव पक्षी को देंगे उतनी कम बीमारियां आने की संभावना रहेगी कम बीमारियां कम खर्चा होगा, कम परेशानी होगी और ज्यादा वजन होगा और ज्यादा मुनाफा होगा.

Hen Poultry farming

farming बनाने का सही तरीका जान लेने से पहले ध्यान से कुछ आधारभूत बातें जरूर समझले कि क्यों पोल्ट्री फार्म के डिजाइन को इतना महत्व दिया जाता है सही पोल्ट्री फार्म निर्माण मुर्गियों या अन्य पक्षी को एक खास फायदा और सुरक्षाा का  माहौल देता है प्रत्येक भौगोलिक स्थिति चाहे देश और राज्य के हिसाब से आपको अनेकों परिवर्तन अपने murgi farm business के निर्माण में करने पड़ सकते हैं, इन छोटी-छोटी बातों जैसे अनेकों और बातें हैं जरा सा नजरअंदाज करना हमेशा के लिए गले की फांस बन सकता है अगर बनाने में कोई कमी रह जाती है तो अंडे देने वाली desi मुर्गी या मास के लिए पाला जाने वाला बॉयलर या अन्य पक्षी उच्च क्षमता से उत्पादन नहीं दे पाएगा।

साधारण शब्दों में शेड निर्माण सफलता की पहली कुंजी है उदाहरण के लिए भारत को ही ले ले लीजिए भारत के किसी कोने में ठंड ज्यादा और किसी जगह ठंड कम या कहीं तापमान ज्यादा और कहीं तापमान कम, और मौसम में लगातार चलता बदलाव। 
और फिर किसी का बना platform देखकर आप कैसे अंदाजा लगा सकते हैं कि आपका प्लेटफार्म भी वैसा ही हो और यह भी हो सकता है किसी का बना प्लेटफार्म देखकर आप सेट या desi hen poultry फार्म बनाएं वह गलत हो- आपकी जगहा के अनुसार, अब निम्नलिखित कुछ ऐसी बातें जो लगभग हर प्लेटफार्म बनाते वक्त जरूरी याद रखनी चाहिए

desi Hen poultry farm business in hindi

Murgi farm business ya Desi hen poultry  के लिए कुछ महत्वपूर्ण बातें।

  • कुछ किसान प्लेटफार्म को जमीन से निचे की जगह में बना देते हैं जिससे कभी अगर ज्यादा बारिश की वजह से पानी भर जाए तो आपका नुकसान होना तय हैं क्योंकि मुर्गी पालक के प्लेटफार्म में किसी भी वजह से पानी भर गया तो मुर्गी plan फिर जो भी कर ले उसका नुकसान होना तय ही है platform जमीन की ऊंचाई से थोडा ऊंचा होना चाहिए आपके लिए फायदेमंद होगा।

  • murgi farm भी अपने घर की तरह बार-बार नहीं बनाया जाता तो मजबूती का जरूर ध्यान रखें मजबूती ज्यादा बढ़ाने के चक्कर में खर्च बढ़ाना बेवकूफी साबित होगी हां जितना खर्च जरूरी है उतना business में जरूर लगाएं पर उससे ज्यादा 1 रूपया भी नहीं लगाना चाहिए।

  • भारत में अगर आप poultry farm बना रहे हैं तो पूर्व दिशा से पश्चिम दिशा की तरफ से प्लेटफार्म हो इसकी वजह है कि सूर्य की रोशनी पूर्व से पश्चिम जाने तक ज्यादा वक्त मुर्गियों को मिलेगी

  • murgi farm की छत से छज्जा भार की और कम से कम 3 फुट जरूर निकाला होना चाहिए, इससे गर्मियों में सीधी धूप और बारिश में पानी की बौछार पोल्ट्री फॉर्म में अंदर ना आए ध्यान रहे हवा की बारिश जिस तरह से बारिश की छिटे farming में आने की संभावना हो उसमें छज्जे पर विश्वास न करें पर्दे कुछ वक्त के लिए बंद कर दें जब तक तेज हवा की बारिश हो रही हो हवा के हिसाब से बारिश की छिटे poultry form में आने की संभावना कम हो

  • Poultry farm की छत पर टिन या सीमेंट की चादर लगवाते हैं तो उसको घास फूस से ढक दें और लोहे की कुंडिया बीच-बीच में जरूर हो ताकि घास फूस को किसी रस्सी से बांधा जा सके जो तेज हवा में उड़ ना जाए ध्यान रखिए गर्मियों में घास फूस को गिला करना ना भूले ताकि छत ठंडी रहे बॉयलर या मुर्गी ज्यादा गर्मी बर्दाश्त नहीं कर सकते, कोशिश करें टिन की वजह पत्थर या सीमेंट की छत बिछवाये।

  • Murgi farm का फर्स मजबूत चाहिए कच्चा फर्स जमीन से नमी शोकता है जिससे बिछौना गीला हो जाता है और अमोनिया जैसी अन्य गैस बनती हैं जो आपको नुकसान पहुंचा सकती है। पक्का मजबूत फर्स ज्यादा बेहतर होता है

  • सैड की ऊंचाई बीच में 10 से 12 फीट तक बेहतर होती है गर्म हवा  जिससे ऊपर की तरफ जाएं। और बॉयलर बर्ड को तनाव कम हो सेट की साइड 7 से 9 फुट हो इससे अच्छी ढलान बनती है और Murgi के लिए बेहतर माहौल बनता है

  • poultry farm के दरवाजे बाहर की तरफ से खुलने चाहिए ताकि जब भी आप दरवाजा खोलो दरवाजे के पास बैठे पक्षी/murgi को चोट ना लगे

  • जिस सड़क के पास से ज्यादा वाहन शोर करते आते जाते रहते हैं वहां प्लेटफार्म farming ना बनाएं नहीं तो पक्षियों को तनाव होगा

  • Hen पोल्ट्री फार्म तक दाना और चूजा पहुंचाने वाले वाहन हर मौसम में बिना देरी के फार्म पर जरूर पहुंच पाएं मतलब पोल्ट्री फॉर्म तक पहुंचने वाला रास्ता किसी भी मौसम में बंद नहीं होना चाहिए अगर किसी वजह से चूजा अनावश्यक देर से पहुंचे या फिर ज्यादा वक्त पक्षियों को नहीं मिल पाया तो नुकसान होना तय हैं

  • जन आबादी से platform दूर बनाएं नहीं तो नए कानून के मुताबिक murgi farm business बंद हो सकता है आबादी से 1 किलोमीटर दूरी अति उत्तम है और संभावित विभाग या ग्राम पंचायत से लिखित अनुमति जरूर लें 

  • पोल्ट्री farm बनाते वक्त बिजली की वैकल्पिक व्यवस्था जरूर हो ताकि गर्मियों में कूलर या पंखा की व्यवस्था बिना बिजली के सुचारू रूप से चल सके
murgi farm business in hindi
  • hen पोल्ट्री फॉर्म के दरवाजे साडे 6 फुट ऊंचे और डाई फुट चौड़े जरूर होने चाहिए क्योंकि कई बार प्लेटफार्म में कुछ सामान सर पर भी लेकर फार्म के अंदर जाना होता है

  • बल्ब या ट्यूबलाइट लगभग 7 फीट ऊंचे हो तो बेहतर है जो हिस्सा जमीन से ज्यादा ऊंचा है वहां बल्ब को लटका कर उसे लगभग 7 फीट तक ले ध्यान रखिए रोशनी कहीं ज्यादा और कहीं कम ना रहे इसे पक्षियों के लिए तनाव की स्थिति बनती है

  • अगर सामान्य एलईडी लाइट उपयोग कर रहे हैं तो लगभग 8 से 10 फीट के अंतर पर एक एलईडी काफी है दोनों तरफ लंबाई और चौड़ाई में ट्यूबलाइट में आप 15 फुट भी ले सकते हैं

  • murgi farm के मुख्य द्वार पर कुछ इंच नीचे सीमेंट का गड्ढा जरूर हो ताकि उसमें पानी भर के उसमें डिस इफेक्टिव मिलाया जा सके ताकि हर आने जाने वाले व्यक्ति उसमें अपने जूते चप्पल भिगोकर ही फार्म में आए इस से प्लेटफार्म पर भारी बीमारियों का आना कुछ कम हो जाता है

  • poultry farm पर सेट हमेशा सफेद रंग का हो ताकि गर्मियों में दीवार ज्यादा गर्म ना हो

  • पानी के टैंक की व्यवस्था ऐसी हो कि गर्मियों में पानी के टैंक को धूप से बचाया जा सके और सर्दियों में सीधी धूप लगवाई जा सके इससे सर्दियों में धूप लगने से पानी कुछ गर्माहट और गर्मियों में रखे होने से पानी अत्यधिक गर्म नहीं होता

  • पोल्ट्री फार्म की लंबाई कितनी भी हो पर चौड़ाई 20 से 25 फीट ही बेहतर मानी जाती है यदि हवा निकासी के लिए बड़े पंखों की व्यवस्था हो तो यह चौड़ाई 30 से 40 फुट भी बढ़ाई जा सकती है

  • Hen poultry farm में जमीन के तल से डेढ़ फुट से 2 फुट ऊंची छोटी दीवार काफी है बाकी जाली से ही कवर कर सकते हैं परंतु जरूरी बात पोल्ट्री फार्म की हर दीवार के बाहर की तरफ हर दो-तीन फुट की दूरी पर बोर्ड जरूर हो यह पर्दे लगाने के वक्त परदो को टाइट रखने में मदद करता है

  • पानी का टैंक इतना बड़ा हो कि अगर पानी की आपूर्ति किसी भी वजह से हो तो पक्षी को पानी की कमी ना हो पक्षी पानी के बिना 1 दिन भी नहीं बिता सकेंगे।

  • अगर Murgi farm के लिए जगह कम हो तो एक सेट के ऊपर दूसरा सेट भी बनाया जा सकता है पर ध्यान रखें ऊंचाई 10 फीट से कम ना हो और छज्जा निचले और ऊपर वाले सेट दोनों में हो

  • hen poultry सैड की लंबाई जितनी भी हो परंतु हर 20 फीट बाद बीच में 2 फीट की दीवार जरूर बनाए लेकिन इस तरह की दीवार में हवा आने जाने का स्थान हो मतलब यह जगह को बांटने का काम भी करती है और हवा भी नहीं रुकती है 

तो यह सब थी मुर्गी फार्म खोलने के लिए पुख्ता जानकारी अगर आपको यह जानकारी पसंद आई हो या इससे कुछ भी नॉलेज मिली हो तो इसको आगे शेेेेयर करे। अगर आपको किसी चीज के बारे मे कोई भी जानकारी चाहिए तो कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं। 

Note:

हमारा उद्देश्य है आपको एक बेहतर सलाह देना आपको एक बेहतर जानकारी देना आप अपना कोई भी बिजनेस या कैरियर से संबंधित कोई भी कोर्स या जॉब अपने आत्मविश्वास पर करें पर करें। धन्यवाद। आपका दिन शुभ हो। आपके सभी काम सफल हो। 

Post a Comment

0 Comments